Wednesday, January 13, 2016

ग़लत कौन रिपोर्ट या रामदेव जी का उत्पाद


दुःख है  पतंजलि का देसी घी परिक्षण में फेल

कृपया इस पोस्ट को रामदेव विरोधी न माने यह पोस्ट गलत के विरोध में है

अगर कोई इस रिपोर्ट को गलत साबित करे तो उसको भी प्रकाशित किया जायेगा और अगर यह रिपोर्ट गलत हुई तो ख़ुशी मिलेगी



और सिर्फ कह देने से की यह रिपोर्ट गलत है कुछ नहीं होगा उसको साबित करो भी करना होगा इस रिपोर्ट की तरह



मन में भी यह प्रश्न आया की केवल रामदेव के घी का ही परिक्षण क्यों करवाया जाये जबकि अन्य बाज़ार के 200-300 रु. में मिलने वाले घी में भी तो मिलावट है

इसका उत्तर है की अन्य कंपनियों में से कोई भी भगवा पहन कर यह मिलावट नहीं कर रहा है लेकिन रामदेव जी ने जिस प्रकार योग को घरघर पहुचाया और लोगो के बीच एक विश्वास उत्पन्न किया

उसी विश्वास के चलते लोगो ने इनके द्वारा प्रचारित हर वस्तु को एक विश्वास के साथ ख़रीदा लेकिन उन सभी के साथ विश्वासघात हुआ है

क्योंकि जब राजीव भाई के वकील मित्र योगेश मिश्र जी ने पतंजलि के घी का परिक्षण करवाया तो उसमे वनस्पति घी और पीला रंग की मिलावट पाई गयी

अब जो लोग इसे गोमाता का घी समझकर खा रहे है उनके लिए कितना बड़ा विश्वासघात है क्योंकि कोई टीशर्ट जीन्स पहन कर ऐसा करे तो समझ आता है की वो व्यापारी है लेकिन रामदेव जी जैसे सन्यासी की जानकारी से ऐसा काम हो रहा है

दुःख की बात तो यह है की इसका विज्ञापन स्वयं रामदेव जी विडियो में आकर करते है
*************************************************************
अब समझ आया की उनके घी की पैकिंग पर

"देशी गाय का देशी घी"

नहीं केवल

"गाय का देशी घी"

क्यों लिखा होता है? क्योंकि अगर यह देशी गोमाता का घी नहीं है तो यह मुफ्त भी मिले तो इसे और इसके जैसे किसी भी घी का प्रयोग नहीं करना चाहिए
***************************************************************
सबसे निवेदन है की बिना किसी अपशब्द का प्रयोग करें इस जानकारी जनहित मे आगे भेजे न की किसी के विरोध की भावना से क्योंकि अपशब्द प्रयोग कर कुछ साकार नहीं होने वाला

आगे के लिये कार्य: जिसके लिए भी संभव हो बाज़ार में मिलने वाले किसी भी मिलवाटी वस्तु को ऐसे ही उजागर करें और फिर से यह बात दोहरा रहे है


कृपया इस पोस्ट को रामदेवजी विरोधी न माने यह पोस्ट गलत के विरोध में है

अगर कोई इस रिपोर्ट को गलत साबित करे तो उसको भी प्रकाशित किया जायेगा और अगर यह रिपोर्ट गलत हुई तो ख़ुशी मिलेगी.........आने वाली पीढियों पर एहसान करें.
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,



रामदेव जी के घी को मिलावटी साबित किया जा रहा है
लेकिन किसी पर भी विश्वास करने से पहले अगर यह मिलावट हम स्वयं पता लगा ले तो कैसा रहेगा
देसी घी में वनस्पति घी की मिलावट पता करने का तरीका
परिक्षण का नाम IS : 15642 (Pt-2) 2006

तरीका: एक या दो ग्राम पिघला हुआ घी लेकर टेस्ट ट्यूब में डाले और उतनी ही मात्रा में
केंद्रित अर्थात concentrated hydrocloric एसिड उसमे मिला दे
थोड़ी सी चीनी डालकर उसे तेज़ी से हिलाए और पांच मिनट छोड़ दे
अगर यह मिश्रण लाल रंग का हो जाये तो इस घी में वनस्पति घी की मिलावट है
जनहित में जारी

40 comments:

  1. galt tau koyi b kare vo galt hi hai. kiska vishvaas kia jaye is jamaane mai?

    ReplyDelete
  2. गलत जनकारी हैं।

    ReplyDelete
  3. Uff pareshan ho gaye milawati sunita se.kya sahi kya galat kuch Samajh nahi aata

    ReplyDelete
    Replies
    1. Milawati duniya not duniya sorry

      Delete
    2. Milawati duniya not duniya sorry

      Delete
    3. Asli ghi ko janchne ka saral aor gharelu upaay >>>
      Ghee ko freezer me rakh kar itna thanda karen ki uski chhoti si goli ban sake, ab is goli ko Pure sarson ke tel me dalen , agar ghee ki goli tel me dhoob kar bilkul neeche bayth jae to ghee asli hai, agar tel me aadhi door par ruk jae to samajh len ki is me aadha desi ghee hai aor aadha chrbi ( Animal fat ) agar ghee ki goli tel me ooper tayrti rahe to samajh len ki ghee bilkul naqli hai, Animal fat aor pam oil ka mishran hai,

      Delete
    4. badhiya hai shikayt karane wala Lucknow ja aur janch ho rahi hai Rajsthan me ?? iska matlab UP me jaanch ki suvidha nahi hai ? aur jara is par diye huve phone number ki bhi janch kar lo, aur is par jo pin code number diya hai woJaipur Pin Code
      Location Pincode State
      A.G.office 302005 Rajasthan
      Ashoknagar 302001 Rajasthan
      Achalpura 303908 Rajasthan
      Achrol 303002 Rajasthan
      ye char alag alag location ke code hain jo isme diye code se ,nahi milte iska matlab ye sirf Patnjali aur Baba ramdev ko badnam karne ka ek chutiyapa hai , aur sabse badi baat agar isme jara bhi sachhai hoti to congress aur TDTV ne ab tak pana randi rona macha diya hota,aur ye bhi dekh lo ki iska test kisne kiya hai ? pehele to uska naam pura dikhai nahi de raha hai upar se ye koi privet company hai jo khud kitni sahi hai kaha nahi ja sakata , magar itna jaroor samjh jana chahiye ki aasman par thukoge to thook tumhare muh par hi giregi

      Delete
  4. विश्वासघात।

    ReplyDelete
  5. झूठ दुष्प्रचार
    एक पार्टी विशेष के फायदे हेतु

    ReplyDelete
  6. Maine test karvaya tha lekin aisi koi baat nahi nikli lekin jab non registered shop se ghee liya to uska colour theek nahi tha mai bhagwa virodhi to nahi par RSS se nafrat karta hu par jo sahi tha vo likha kripya ghee registered shop se hi le

    ReplyDelete
    Replies
    1. Sahi baat hai.Unregistered to manage ke liye ya jaan both kar vadnam karne ke liye bhi esa kar sakta hai

      Delete
    2. Sahi baat hai.Unregistered to manage ke liye ya jaan both kar vadnam karne ke liye bhi esa kar sakta hai

      Delete
  7. It seems fact this is not pure 100 % cow ghee.... I m sure

    ReplyDelete
  8. Dushprachar ka hathkanda.Test House ki vishwasniyata kya hai? Lukhnow ke customer ko ghee jaanch ke liye jaipur kyon bhejna pada?

    ReplyDelete
  9. Dushprachar ka hathkanda.Test House ki vishwasniyata kya hai? Lukhnow ke customer ko ghee jaanch ke liye jaipur kyon bhejna pada?

    ReplyDelete
  10. i think using cow urine , so, i dont like it. using another brand.it is not good.But better than puntjali

    ReplyDelete
    Replies
    1. विदेशी प्रोडक्टों मे सुअर की चर्बी मिली होती है, लोग कितना पसंद करते हैं! उसकी कोई जांच के बारे में किसी को समय नहीं! वाह मेरेदेशवासियों

      Delete
    2. विदेशी प्रोडक्टों मे सुअर की चर्बी मिली होती है, लोग कितना पसंद करते हैं! उसकी कोई जांच के बारे में किसी को समय नहीं! वाह मेरेदेशवासियों

      Delete
  11. ye hindusthan h isme teen cheje kabhi band nahi ho sakti 1 milavat khori 2 ghus 3 netaao ke aaswasan

    ReplyDelete
  12. बहुराष्ट्रीय कम्पनियों के एजेन्टों द्वारा बाबारामदेव को बदनाम करने की साजिश की नापाक कोशिश मात्र ।

    ReplyDelete
  13. राष्ट्र विरोधी सुअरों का काम है पतंजलि को बदनाम करने का ।

    ReplyDelete
  14. बहुराष्ट्रीय कम्पनियों के एजेन्टों द्वारा बाबारामदेव को बदनाम करने की साजिश की नापाक कोशिश मात्र ।

    ReplyDelete
  15. पहले भांड बाबा लोग सड़क किनारे तंबू में हजारो डिब्बियाँ लेकर बेचते थे, आज एक भांड बाबा रामदेव "भगवा" पहन कर और उसका एक फ़र्ज़ी अनपढ़ सहयोगी बालकृष्‍ण वही हजारो डिब्बियाँ लेकर टीवी के माध्यम से राष्ट्रवाद के अफीम की आड़ में अपनी दूकान चला रहा है। अब आपको चुनना है चैरिटी, राष्ट्रवाद के भहकावे में परिवारजनों को वही डिब्बियों वाला जहर खिलाना है या किसान या एक मानक कंपनी का उत्पाद खिलाना है।

    ReplyDelete
  16. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  17. मुझे तो पता था
    की रामदेव नोटंकी फैला रखा है देसी-वेशी कुछ नही वो कंपनी के साथ मिल के हम भारत-बासियो को लूट रहा है
    वो साधू नही लुटेरा है,अगर वो अपने आप को साधू बोलता है तो फिर बिजनेस क्यों कर रहा है

    ReplyDelete
  18. I hv tried a lot of patanjali products but not up to mark.

    ReplyDelete
  19. I hv tried a lot of patanjali products but not up to mark.

    ReplyDelete
  20. रिपोर्ट में सील बन्द पैक जांच हेतु दिये जाने का उल्लेख नहीं है खुले पैक में कौन सा घी है कौन सिद्ध करेगा और यदि आप सही हैं तो फेसबुक पर क्या बता रहे हैं उपभोक्ता फोरम में शिकायत क्यों नही की ।।

    ReplyDelete
  21. रिपोर्ट में सील बन्द पैक जांच हेतु दिये जाने का उल्लेख नहीं है खुले पैक में कौन सा घी है कौन सिद्ध करेगा और यदि आप सही हैं तो फेसबुक पर क्या बता रहे हैं उपभोक्ता फोरम में शिकायत क्यों नही की ।।

    ReplyDelete
  22. Vestige ke products use kare it's really good n chemical free product
    Rice bran oil tea paste all are good
    Contact 7275640678

    ReplyDelete
  23. Vestige ke products use kare it's really good n chemical free product
    Rice bran oil tea paste all are good
    Contact 7275640678

    ReplyDelete
  24. Pilay rang ki bhee jaanch ravawo ho sakta oosme SONA (gold) ho !

    ReplyDelete
  25. Pilay rang ki bhee jaanch ravawo ho sakta oosme SONA (gold) ho !

    ReplyDelete
  26. http://aryadeshbharat.blogspot.in/2016/08/blog-post.html

    ReplyDelete
  27. # गाय का घी और उसके उत्पाद महंगे क्यों होते है?

    एक लीटर घी बनाने में तीस लीटर दूध की खपत होती है जिसका मूल्य कम से कम 30 रु. लीटर के हिसाब से 900 रुपये केवल दूध का होता है| और इसे बनाने में मेहनत आदि को जोड़ दिया जाये तब घी का न्यूनतम मूल्य 1200 रुपये प्रति लीटर होता है|

    ReplyDelete
  28. http://aryadeshbharat.blogspot.in/2016/08/blog-post.html

    ReplyDelete
  29. http://aryadeshbharat.blogspot.in/2016/08/blog-post.html

    ReplyDelete